Gharelu Nuskhe for Loose Motion

Loose Motion ya Diarrhea hone ke bahut karan hai. Loose motions hone se body mein bahut kamzori mehsoos hoti hai. Aise mein bahut saavdhani rakhni padhti hai. Loose motion hone par body mein paani ki kami hone ki wajah se dehydration hone ke chances rehte hai. Isliye aisi stithi mein paani / liquid padarth ka sevar badha dena chahiye. Loose motions ke liye neeche kuch dadi maa ke gharelu nuskhe diye gye hai.

  • Chaar choti elaichi ko ek litre pani me pakaye jab pani 3 cup tak reh jaye to thanda hone par 3 hisse kar le 4-4 ghante baad peene se 8 ghante mein fayeda dikhne lagega.
  • Ek glass kache dudh mein chinni aur ek chammach nimbu ka ras mila kar dudh faad lein. Fatte hue dudh ko ache se hila kar peene se bhi dust le laabh hoga.
  • Saunth ka powder shehed ke saath lene se loose motions mein laabh hota hain.
  • Tulsi ke paanchang (jad, patti, daali, manjari, beej) ka kadha bhi loose motions ke liye bahut asardaar gharelu upchar hai.
  • Adrak aur pudine ke ras mein namak milakar peene se bhi dust me aaram milta hai.
  • Kese bhi tez dust ho, jaamun ki pattiyaan (na zyada pakki hui na zyaada mulayam) pees lein. Usme zara-sa sendha namak milakar subaah shaam paani ke saath ek-ek chammach ka sevan karne se dust band ho jayega. yeh dadi maa ka nuskha loose motion ke liye bahut asardaar hai.
  • Saunf aur jeera barabar matra mein lekar tave par bhoon lein aur baareek pees kar 1/2 chammach din mein 2-3 baar paani ke saath lein. Dust band karne ke liye sabse achha aur sasta gharelu upchar hai.
  • Aam ki guthli ki giri ka 4-5 gmchuran shahed ke saath lene se laabh hota hai.
  • Loose motion ke rogi ki naabhi mein adrak ka ras bhar dene se laabh hota hai.
  • Dahi ke saath kele ka sevan karna bhi loose motion mein aaram deta hai.

दस्त के लिए घरेलु नुस्खे:

  • चार छोटी इलाइची को एक लीटर पानी में पकाये जब पानी 3 कप तक रह जाए तो ठंडा होने पर 3 हिस्से कर लें 4-4 घंटे बाद पीने से 8 घंटे में फायदा दिखने लगेगा।
  • एक गिलास कच्चे दूध में चीनी और एक चम्मच निम्बू का रस मिला कर दूध फाड़ लें। फटे हुए दूध को अच्छे से हिला कर पीने से भी दस्त ले लाभ होगा।
  • सौंठ का पाउडर शहद के साथ लेने से दस्त में लाभ होता हैं।
  • तुलसी के पंचांग (जड़ , पत्ती , डाली , मंजरी , बीज ) का काढ़ा भी दस्त के लिए बहुत असरदार घरेलु उपचार है।
  • अदरक और पुदीने के रस में नमक मिलकर पीने से भी दस्त में आराम मिलता है।
  • कैसे भी तेज़ दस्त हो, जामुन की पत्तियां (ना ज़्यादा पकी हुई ना ज़्यादा मुलायम ) पीस लें।  उसमे ज़रा सा सेंधा नमक मिला कर सुबह शाम पानी के साथ एक-एक चम्मच का सेवन करने से दस्त बंद हो जाएगा। यह दादी माँ का नुस्खा दस्त के लिए बहुत असरदार है।
  • सौंफ और जीरा बराबर मात्रा में लेकर तवे पर भून लें और बारीक पीस कर 1/2 चम्मच दिन में 2-3 बार पानी के साथ लें। दस्त बंद करने के लिए सबसे अच्छा और सस्ता घरेलु उपचार है।
  • आम की गुठली की गिरी का 4-5 gm चूर्ण शहद के साथ लेने से लाभ होता है।
  • दस्त के रोगी की नाभि में अदरक का रस भर देने से लाभ होता है ।
  • दही के साथ केले का सेवन करना भी दस्त में आराम देता है ।

Hum asha karte hain ki upar diye gye gharelu upchar for loose motions aapke liye kaamyaab saabit ho.


Other Search Terms: